Youth taking ration in the farmers movement became the victim

किसान आंदोलन में राशन लेकर जा रहा नौजवान हुआ हादसे का शिकार, लुधियाना के DMC में ली आखिरी सांस

Latest Punjab


जगराओं,(बेरी-दिनेश) : दिल्ली बार्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में गांव लोधीवाल से ट्रैक्टर ट्राली पर आटा,लकड़ी व आलू लेकर जा रहे 22 वर्षीय नौजवान की सडक हादसे दौरान मौत हो गई। हादसा दिल्ली से कुछ किलोमीटर की दूरी पर पानीपत के पास हुआ जिसके बाद नौजवान को पानीपत के ही एक प्राईवेट अस्पताल में भर्ती करवाया गया था पंरतु मंगलवार को उसनें दम तोड दिया।

मृतक की पहचान बलकरन सिंह पुत्र पवित्र सिंह के तौर पर हुई है जिसका पोस्टमार्टम मंगलवार को बाद दुपिहर सिविल अस्पताल जगराओं से करवाया गया। देर शाम बलकरन सिंह का अतिंम संस्कार गांव लोधीवाल में किया गया जंहा पर गांव के सैंकडो लोगो नें नम आंखो से बलकरन सिंह को श्रधांजली देते हुए उसे किसानी आंदोलन का शहीद करार दिया।

मिली जानकारी के मुताबिक चार दिन पहले 12 मार्च को बलकरन सिंह गांव लोधीवाल से ट्रैक्टर ट्राली पर आलू,70 कुविंटल लकड़ी व आटा लेकर किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए दिल्ली गया था। रास्ते में अचानक वो ट्रैक्टर से गिर पडा और ट्राली के टायरो के तले कुचला गया। गंभीर रुप से जख्मी हुए बलकरन सिंह को पानीपत में ही एक प्राईवेट अस्पताल मे भर्ती करवाया गया जंहा पर चार दिन से उसका इलाज चल रहा था।

यहा ये वणर्णनीय है कि बलकरन सिंह की पिता पवित्र सिंह भी दिल्ली में चल रहे किसानी आंदोलन में 43 दिन सेवा के तौर पर लगाकर आए थें और सारा परिवार ही किसान आंदोलन से जुडा था।बलकरन सिंह अपने पीछे एक भाई व एक बहन छोड गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *