Wheat procurement stalled in Mandi for 3

बारदाने की कमी के चलते 3 दिन से मंडी में गेहूं की खरीद हुई ठप्प

Latest Punjab

खुले आसमान मे चार लाख गेहूं की बोरियां का मंडी में लगा अम्बार

जगराओं:- (दिनेश शर्मा): एशिया की दूसरी सबसे बड़ी अनाज मंडी जगराओं में बारदाने की कमी के चलते पिछले 3 दिन से गेहूं की खरीद का काम पूरी तरह ठप्प पड़ा है । इसके साथ-साथ ही मंडी से गेहूं की लिफ्टिंग ना होना और लेबर की कमी भी समस्या का मुख्य कारण बनी हुई है । स्थानीय मंडी में जब आज मौके पर जाकर देखा गया तो मंडी में फड़ों के साथ साथ और किसी जगह में भी गेहूं रखने के लिए कोई जगह दिखाई नहीं दे रही थी । मंडी के चारों तरफ गेहूं के बड़े-बड़े अम्बार लगे हुए थे ।

मंडी में बैठे किसान आढ़तीयो के साथ साथ मंडी में काम करने वाले मजदूर भी गेहूं की खरीद ना होने लिफ्टिंग की सुस्त रफ्तार और बारदाने की भारी कमी से ज्यादा परेशान नजर आए। देखने में यह सामने आया कि इलाके के साथ लगती बाकी गांवों की मंडियों को अगर एक तरफ छोड़ दिया जाए , तो अकेले जगराओ अनाज मंडी में ही चार लाख से अधिक गेहूं से भरी बोरियां खुले आसमान के नीचे पड़ी हैं ।

आढ़तीया एसोसिएशन के जिला प्रधान राजकुमार भल्ला से बात की गई तो उन्होंने बताया कि जगराओं मंडी में ढाई लाख के गेहूं की बोरियों के इलावा 2 लाख बोरियों के करीब गेहूं के ढेर के रूप में पड़े हैं । उन्होंने बताया कि खुले में पड़े गेहूं को बारदाने की भारी कमी के चलते भरा नहीं जा सका है ।

जिसके कारण मंडी में पिछले 3 दिन से गेहूं की खरीद का काम बिल्कुल ठप्प पड़ा है मार्केट कमेटी जगराओं के आंकड़ों के मुताबिक इलाके की मंडियों में तीन लाख 87 हजार कौन से ज्यादा गेहूं की आमद हो चुकी है । मंडी में चल रही गेहूं की खरीद के बारे में मार्केट कमेटी के अधिकारी से पूछा तो उन्होंने माना कि मंडी में अभी 90 हजार किंवटल गेहूं की खरीद बाकी है साथ ही उन्होंने मंडी में गेहूं की लिफ्टिंग के बारे में बताया कि मंडी से पौने तीन लाख किंवटल गेहूं की लिफ्टिंग होना बाकी हैं।

क्या कहना है मार्केट कमेटी जगराओं के चेयरमैन का:
इस बारे में जब चेयरमैन सतिंदर पाल सिंह काका ग्रेवाल से बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि मंडी में बारदाने की कमी को जल्द ही पूरा किया जा रहा है साथ ही मंडी में लिफ्टिंग ना होने के बारे में उन्होंने बताया कि मंडी में लिफ्टिंग का काम ठेके पर दिया गया है को ठेकेदार की जिम्मेवारी बनती है वह समय पर मंडी से गेहूं की लिफ्टिंग करें साथ ही उन्होंने कहा कि वह सुबह ही लिफ्टिंग के ठेकेदार और अधिकारियों से बैठक कर जल्द ही इस समस्या का हल करवाएंगे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *