So many corona cases in Punjab today and know

पंजाब में आज इतने कोरोना के मामले और जानिये किन शहरों में शुरू हुआ सीरो सर्वे

Latest Punjab

पंजाब (पंजाब 365 न्यूज़ ) : कोरोना के चलते पंजाब में लॉक डाउन लगाया गया था और कड़े इंतेज़ाम के साथ इसे लागू भी करवाया गया था। लगातार केसों में कमी के कारण अब पंजाब अनलॉक हो गया है। पंजाब में कोरोना की दूसरी लहर बेहद मंद पड़ गई है। प्रदेश सरकार संभावित तीसरी लहर से निपटने के इंतजाम में जुट गई है। उधर, ब्लैक फंगस के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। मंगलवार को भी प्रदेश में 10 मामले मिलने से स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई।
पंजाब में कोरोना से मंगलवार को 20 संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। संक्रमण के 409 नए मामले सामने आए हैं। अस्पतालों में भर्ती 155 संक्रमितों की हालत गंभीर बनी हुई है। अब तक सूबे में 15888 लोगों की मौत हो चुकी है। पंजाब में एक दिन की संक्रमण दर गिरकर 0.91 फीसदी प्रतिशत पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मंगलवार को राज्य में अमृतसर में 2, बठिंडा में 1, फाजिल्का में 1, फिरोजपुर में 1, होशियारपुर में 1, जालंधर में 2, कपूरथला में 1, लुधियाना में 2, मुक्तसर में 1, पटियाला में 2, रोपड़ में 1, संगरूर में 4 और एसबीएस नगर में 1 मरीज की जान चली गई।

ब्लैक फंगस के 10 नए मामले :
पंजाब में ब्लैक फंगस के मंगलवार को 10 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में अब तक ब्लैक फंगस से पीड़ित मरीजों की संख्या 535 पहुंच गई है। 475 मामले पंजाब से संबंधित हैं, अन्य 60 मामले दूसरे राज्यों के बताए जा रहे हैं। ब्लैक फंगस से राज्य में अब तक 51 लोगों की मौत हो चुकी है।
शुरू किया गया सिरो सर्वे :
कोरोना की दूसरी लहर शांत हो चुकी है। संभावित तीसरी लहर से पहले केंद्र सरकार की ICMR (इंडियन काउंसिल आफ मेडिकल रिसर्च) की टीम ने राज्य में चौथा सीरो सर्वे शुरू करवा दिया है। टीम ने राज्य में पांच जिलों को सर्वे के लिए चुना। सोमवार को जालंधर में टीम ने लोगों के सैंपल लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। सेहत विभाग के अनुसार तीस सदस्यों की टीम सर्वे के लिए पांच जिलों गुरदासपुर, पठानकोट, लुधियाना, जालंधर व पटियाला में सर्वे करेगी।

प्रत्येक जिले में दस इलाकों का चयन किया जाएगा और प्रत्येक इलाके से 40 लोगों के खून के सैंपल लिए जाएंगे। टीमें छह साल से अधिक आयु वर्ग के लोगों के सैंपल लेगी। इसके अलावा प्रत्येक जिले में जिला अस्पताल व कोरोना मरीजों के इलाज से जुड़े 100-100 हेल्थ वर्करों के खून के सैंपल लेकर दिल्ली, पुणे, मुबंई, हैदराबाद सहित आइसीएमआर लैब में भेजे जाएंगे। टीम उन लोगों को भी सर्वे में शामिल कर रही है जिन्हें कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी है।

लोगो से किये जायेंगे ये सवाल :
लोगों से यह भी पूछा जाएगा कि उन्हें कौन सी वैक्सीन कब-कब लगी। इसके अलावा कई अन्य गहन सवाल पूछे जाएंगे जो कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए सहायक सिद्ध हो सकते है। सर्वे का मुख्य लक्ष्य लोगों में बीमारी से लड़ने की क्षमता के लिए एंटी बाडी का स्तर जांचना है। सिविल सर्जन डा. बलवंत सिंह ने कहा कि ICMR की टीम का सर्वे में सहयोग किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *