SDM Dhaliwal and SMO Mahindra started the Ruler Mission Fateh

जगरांव के गांवों में रूलर मिशन फतेह प्रोग्राम की SDM धालीवाल एवं SMO महिंद्रा ने की शुरुआत

Latest Punjab

कैंप दौरान गांव के लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए किया जागरूक

जगरांव,(दिनेश) : पंजाब में कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप देखते हुए राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शहरों के साथ गांवों को भी कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप से जागरूक करने के लिए रूरल मिशन फतेह की शुरूआत की है जिसके तहत जिला प्रशासन व सेहत विभाग की टीमें राज्य के हर एक गांव में जाकर गांवों के लोगों को कोरोना से बचाव वं सावधानियां से जागरूक करेंगी ।

ऐसी मुहिम के तहत आज एसडीएम जगरांव नरिंदर सिंह धालीवाल की अगुवाई में सरकारी हाई स्कूल गांव मलक में रूरल फतेह मिशन प्रोग्राम आयोजित किया गया। जिसमें सिविल अस्पताल जगरांव के एसएमओ डा.प्रदीप कुमार महिंद्रा , तहसीलदार मनमोहन कौशक व ब्लाक खेतीबाड़ी अफसर डा.गुरदीप सिंह विशेष तौर पर उपस्थित हुए रूरल फतेह मिशन प्रोग्राम में गांव मलक की दोनों पंचायतों ने भाग लिया जिसमें लम्मेपत्ती के सरपंच दीदार सिंह व जगराओं पत्ती के सरपंच बलविंदर सिंह व गांव के अन्य लोग मौजूद रहे।

इस मौके पर एसडीएम धालीवाल ने गांव के लोगों को अपील की कि आप सभी कोरोना महामारी के प्रति जागरूक हो‌ क्योंकि पिछले 14 महीनों से कोरोना महामारी ने पूरे देश में कहर फैलाया हुआ है। इस महामारी की चेन को तोड़ने के लिए हम सभी को जागरूक होने की आवश्यकता है उन्होंने लोगों को अपील की कोरोना महामारी प्रति यदि किसी भी व्यक्ति में कोई लक्षण दिखें तो वह बिल्कुल भी लापरवाही न बरतें और तुरंत डाक्टर को दिखाएं और उनकी सलाह लें। इस मौके पर सिविल अस्पताल जगरांव के एसएमओ डा.प्रदीप कुमार महिंद्रा ने लोगों को अपील की कि कोरोना महामारी की जांच अधिक से अधिक करवाएं और कोरोना से बचाव को लेकर वैक्सीन जरूर लगवाएं।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी की जांच एवं वैक्सीन सिविल अस्पताल के साथ-साथ कैंपों दौरान फ्री की जाती है उन्होंने बताया कि एसएमओ हठूर डा.रमनिंदर कौर गिल की अगुवाई में टीमें कैंप लगाकर वैक्सीनेशन व सैंपलिंग ले रही है लोग उनका पूरा सहयोग करें और साथ ही लोगो को हमेशा मास्क पहनने व दूसरों से दो गज की दूरी व जरूरत के समय ही घरों से बाहर निकलने की अपील भी की। इस मौके पर जगराओं पत्ती मलक के सरपंच बलबीर सिंह ने कहा कि गांव मलक में कोरोना से बचाव को लेकर वैक्सीनेशन बहुत कम हो रही है और वैक्सीनेशन की कमी के चलते कई बार लोगों को अस्पताल से वापिस लौटना पड़ता है। इस मौके पर एसडीएम नरिंदर सिंह धालीवाल ने भरोसा दिया कि सेहत विभाग की टीमें कोरोना महामारी से बचाव प्रति गतिविधियां तेज करेंगी ताकि गांव के हर व्यक्ति का वैक्सीनेशन हो सके और सौ फीसदी वैक्सीनेशन करवाने वाला गांव सरकार द्वारा दिए जाने वाले दस लाख रुपए का पुरस्कार जीतेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *