Sachin Jain murder

सचिन जैन हत्याकांड : पुलिस ने गिरफ्तार किये पाँचो आरोपी

Crime Punjab

जालंधर (पंजाब 365 न्यूज़ ): जालंधर में व्यवसायी सचिन जैन की हत्या करने बाले पांचो आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं। आपको बता दे की कुछ दिन पहले कुछ अज्ञात लोगो ने सचिन की गोली मर कर हत्या कर दी थी। 19 जुलाई की रात सोढल के मथुरा नगर में जैन करियाना स्टोर के मालिक सचिन जैन वासी तेल वाली गली (शेखां बाजार) को गोली मार दी गई थी। जैन से लुटेरे लूट करने आए थे। जख्मी जैन को एक्टिवा पर उसके दोस्त 4 प्राइवेट अस्पताल में लेकर गए थे मगर किसी भी अस्पताल नेे दाखिल नहीं किया था। 45 मिनट तक घूमने के बाद जैन का सिविल अस्पताल से प्राथमिक ट्रीटमेंट करवाकर फैमिली एक अन्य अस्पताल में लेकर गई जहां पर उसकी मौत हो गई थी।

सोडल रोड पर दुकानदार सचिन जैन की हत्या के मामले में कमिश्नरेट पुलिस ने सभी पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है कि हत्या में इस्तेमाल किया हथियार रमन कुमार उर्फ साई हाल ही में मध्य प्रदेश से लाया था। इस बारे में पुलिस आयुक्त जालंधर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने कहा कि सभी आरोपियों को पकड़ने के लिए अभियान चलाया गया। इसके चलते 8 टीमें बनाई गई थीं, जो मामले में लगातार काम कर रही थीं। उन्होंने कहा कि आरोपियों की पहचान अर्शदीप उर्फ वडा प्रीत शहीद बाबू लाभ सिंह नगर, साहिल राज नगर, दर्शन लाल उर्फ लकी संत नगर, रमन कुमार उर्फ साई मधुबन कॉलोनी के रूप में हुई है, जबकि पांचवां आरोपी दीपक पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि वडा प्रीत के खिलाफ जालंधर और कपूरथला में पहले ही पांच मामले दर्ज हैं।

इसके अलावा भार्गव कैंप थाने में दर्ज दो अलग-अलग मामलों में दर्शन लाल भी वांछित था। आरोपी रमन कुमार उर्फ साईं के खिलाफ भार्गव कैंप और बस्ती बावा खेल थाने में पहले ही दो आपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस आयुक्त ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ जल्द से जल्द चार्जशीट भी दाखिल कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि वारदात में इस्तेमाल पिस्तौल और दो जिंदा कारतूस भी बरामद कर लिए हैं।

मध्य्प्रदेश से लायी पिस्तौल से किया कत्ल :
पुलिस पूछताछ में रमन कुमार ने बताया कि वह मध्यप्रदेश के इंदौर में मेट्रो कंपनी में सिक्योरिटी सुपरवाइजर था। वारदात में इस्तेमाल किया पिस्टल वो ही कुछ समय पहले मध्यप्रदेश से खरीदकर लाया था। वह कुछ समय पहले ही जालंधर आया है, जहां उसका दूसरे आरोपियों से तालमेल हुआ। दर्शन लक्की ने बताया कि वह बैट बनाने का काम करता है। पिछले कुछ समय से दोस्तों के साथ मिलकर वह लड़ाई-झगड़े करने लगा। साहिल ने कहा कि वह ड्राइवरी करता है। उसके खिलाफ पहले कोई केस दर्ज नहीं है। आरोपी अर्शदीप उर्फ वड्‌डा प्रीत आपराधिक किस्म का है और उसके खिलाफ लूटपाट व झगड़े के केस दर्ज हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *