Major accident: MiG-21 in Moga

बड़ा हादसा : मोगा में मिग 21, दुर्घंट्नाग्रस्त होने से पायलट हुआ शहीद ,चारो तरफ फैली आग

Latest Punjab

मोगा (पंजाब 365 न्यूज़ ) : पंजाब के मोगा के पास गुरुवार रात करीब साढ़े नौ बजे भारतीय वायुसेना का एक मिग-21 लड़ाकू विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। एसपी (हेडक्वार्टर) गुरदीप सिंह के अनुसार, हादसे में पायलट अभिनव चौधरी की मौत हो गई। हादसा मोगा से करीब 25 किलोमीटर बाघापुराना के गांव लंगियाना खुर्द के पास हुआ। विमान के गिरते ही उसमें आग लग गई।

एसपी हेड क्वार्टर गुरदीप सिंह ने बताया कि राजस्थान के सूरतगढ़ एयर बेस से पायलट अभिनव चौधरी ने जगरांव के पास पड़ते इनायतपुरा के लिए उड़ान भरी थी। प्रैक्टिस के लिए गए पायलट अभिनव चौधरी ने जब इनायतपुरा से वापस सूरतगढ़ के लिए उड़ान भरी तो मोगा के गांव लंगियाना के पास आकर उन्हें लगा कि विमान गिर जाएग। इस पर पायलट चौधरी ने विमान से छलांग लगा दी। जहां विमान गिरा उससे आठ एकड़ दूर पायलट का शव बरामद किया गया। गर्दन टूटने के कारण उनकी मौत हुई।
फैली चारों तरफ आग :
शहर के पास भारतीय वायुसेना का एक मिग-21 विमान गिर गया। हादसे में पायलट की मौत हो गइ्र। शहर से करीब 28 किलोमीटर दूर बाघापुराना से मुदकी रोड स्थित गांव लंगेयाना नवां व पुराने के बीच खाली पड़े प्लाट में वीरवार मध्य रात्रि सेना का जहाज तेज धमाके के साथ गिर पड़ा। जहाज के गिरते ही चारों तरफ आग ही आग फैल गई। वायुसेना के अधिकारियों के अनुसार, विमान से नियमित प्रशिक्षण उडा़न पर था।
पायलट ने की थी जान बचाने की कोशिश :
विमान के पायलट ने पैराशूट से कूदकर अपनी जान बचाने की कोशिश की, लेकिन छलांग लगाते समय विमान के किसी भारी उपकरण के टकराने से पायलट की मौत हो गई। सेना की एंबुलेंस खेत में मिले पायलट के शव को ले गई। सेना ने पूरे क्षेत्र की घेराबंदी कर रखी है।

विमान गांव के घरों से 500 मीटर की दूरी पर खेतों में जा गिरा। लंगियाना के पास एक जहाज दुर्घटनाग्रस्त होने का कंट्रोल रूम से मैसेज प्राप्त हुआ था। मोगा के एसएसपी हरमनबीर सिंह गिल और पुलिस के तमाम आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और पायलट को ढूंढने के लिए अलग-अलग टीमों का गठन किया। मौके पर ही बठिंडा एयरफोर्स और हलवारा एयरफोर्स की टीमें भी पहुंच गई थी। लगभग 4 घंटे की मशक्कत के बाद पायलट अभिनव चौधरी का शव बरामद किया गया।

रात करीब साढ़े नौ बजे गांव लंगियाना खुर्द में जोरदार धमाके से दहशत में आए ग्रामीणों के अनुसार, विमान जमीन के अंदर करीब पांच फुट तक धंस गया था। करीब सौ फुट तक विमान के टुकड़े फैले थे। उन्हें विमान के पिछले हिस्से को देखकर पता चला कि यह वायुसेना का विमान है।
विमान में धमाके की आवाज सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे तो हर तरफ आग ही आग दिखाई दे रही थी। विमान के पिछले हिस्से से पता चला कि यह वायुसेना का विमान है। सूचना मिलने पर बाघापुराना के डीएसपी जसविंदर सिंह, एचएचओ हरमनजीत सिंह मौके पर मौजूद हैं, लेकिन आग की लपटों के बीच कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *