Fetal sex investigation:

भ्रूण लिंग जांच : स्टिंग ऑपरेशन से खुला स्कैनिंग करने बालों का राज ,हुए दलाल गिरफ्तार

Crime Latest Punjab

करतारपुर (पंजाब 365 न्यूज़ ) : दुनिया कहाँ से कहाँ पहुँच गयी लेकिन अब भी कुछ लोगो की नीच सोच को नहीं बदला जा स्का है जो अब भी लड़का और लड़की में फर्क करते है। गर्भवती होने पर जो अपनी पत्नियों की जांच करवाने ले जाते है। ऐसे लोगों को तो सख्त से सख्त सज़ा मिलनी चाहिए जो ऐसे नीचज काम करते है। जी हाँ ऐसा ही एक मामला करतारपुर से सामने आया है। यहां फतेहाबाद से आई सेहत विभाग की टीम ने करतारपुर के एक सेंटर में किए जा रहे भ्रण लिंग जांच का राजफाश किया है। विभाग ने सेंटर को सील कर दिया और मशीन सील कर पुलिस को सौंप दी। चार दलाल समेत सेंटर के एक स्टाफ सदस्य को हिरासत में भी लिया गया जबकि महिला की स्कैनिंग करने वाली डाक्टर फरार हो गई।
करतारपुर स्थित डाॅ. मुल्तानी डायग्नाॅस्टिक सेंटर में विभाग की टीम ने शुक्रवार को रेड कर दी। आरोप है कि डाॅ. मुल्तानी ने लिंग निर्धारण जांच के अलावा दो महीने पहले पकड़ी गई स्कैनिंग मशीन की सील तोड़कर दोबारा स्कैनिंग की है। मशीन उन्होंने विभाग से सुपुर्दारी पर ली थी।

फतेहाबाद के डिप्टी सिविल सर्जन डा. गिरीश कुमार ने बताया कि उनको गुप्त सूचना मिली थी कि करतारपुर के एक सेंटर में भ्रूण की लिंग जांच की जाती है। उन्होंने रेड करने के लिए फतेहाबाद से एक गर्भवती महिला को तैयार किया। सेंटर का महिला के साथ 40 हजार में सौदा तय हुआ। सेंटर संचालकों ने महिला को पहले जलालाबाद में एक महिला के पास भेजा। वहां से उसे कपूरथला बस स्टैंड लाया गया। वहां काफी समय इंतजार करने पर एक और महिला आई जो उसे करतारपुर रेलवे स्टेशन लेकर आई। वहां भी उसे कुछ देर इंतजार करवाया गया। कुछ समय बाद एक महिला अपने भांजे के साथ गाड़ी नंबर पीबी 21 बी 0011 पहुंची और सभी उसे डा. टीपीएस मुल्तानी के सेंटर लेकर आए।
पकड़े गए महिला और उसके साथी :
सेंटर में जांच होने के बाद महिला दलाल व उसके साथी को पकड़ लिया गया जबकि इसी बीच डाक्टर सेंटर को ताला लगाकर फरार हो गया था। टीम ने वीडियोग्राफी कर ताला तोड़ा और गहन जांच पड़ताल की। इस दौरान सेहत विभाग जालंधर की ओर से दो माह पहले सील की गई मशीन कपड़े में लिपटी मिली। उसकी भी सील टूटी हुई थी। उन्होंने कहा कि पुलिस ने इनमें तीन दलाल महिलाएं, एक दलाल युवक व एक स्कैङ्क्षनग सेंटर में काम करने वाला व्यक्ति को हिरासत में लिए है। मौके पर दो दलाल महिलाओं से 35 हजार रुपये बरामद भी कर लिए गए। जिला परिवार कल्याण अधिकारी डा. रमन गुप्ता ने बताया कि पुलिस को मामला दर्ज करने की सिफारिश की गई है।
ऐसे आया मामला सामने :
फतेहाबाद सेहत विभाग में तैनात असिस्टेंट सिविल सर्जन डॉ. गिरीश कुमार ने बताया कि स्टिंग के लिए एक महिला को ढूंढा, जिसे जलालाबाद में पहले 5 हजार रुपए दिए। उसने कपूरथला में एक महिला के पास भेजा, जहां डिकाॅय मरीज से 35 हजार रुपए लिए। उसने स्कैनिंग सेंटर में काम करने वाले युवक को बुलाया, जो डिकाॅय महिला को अपने साथ कार में ले गया। महिला की डॉ. मुल्तानी डायग्नोस्टिक सेंटर में लिंग निर्धारण जांच की गई। फिर महिला को युवक सेंटर से कुछ दूर छोड़ गया। इसके बाद हरियाणा पुलिस और सेहत विभाग की टीम ने युवक सन्नी उर्फ सलीम को दबोचा। महिला को काबू किया और उससे रकम बरामद कर ली गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *