किसान आंदोलन में आत्महत्या – कृषि कानूनों के खिलाफ संत बाबा राम सिंह ने खुद को मारी गोली मरने से पहले लिखा सुसाइड नोट -किसानो का दर्द सहा नहीं जा रहा

National

जालंधर (पंजाब 365 न्यूज़): पुलिस ने ये जानकारी दी है की कृषि कानूनों का विरोध कर रहे सिंधु बॉर्डर के निकट प्रदर्शन कर रहे एक सिख संत ने बुधवार को कथित रूप से आत्महत्या कर ली है। बताया जा रहा है की सिख संत ने ये आत्महत्या किसानों के समर्थन में की है। पुलिस ने कहा की मरने वाले के हाथ में एक पंजाबी में लिखा नोट भी मिला है। जिसमे लिखा गया है की किसानों का दर्द सहा नहीं जा रहा है। पुलिस मामले की जाँच कर रही है। बताया जा रहा है की राम सिंह करनाल के पास नानकसर गुरुद्वारा साहिब से थे।

Total Page Visits: 69 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *