2020-incidents

फ़्लैश बैक : 2020 की वो घटनाएं जो कोई भी नहीं भुला सकता

National

FLASH BACK : साल 2020 सबसे ज्यादा याद रखा जाने वाला साल साबित हुआ। ये भी कह सकते है की इस साल को लोग जल्द से जल्द भूलने की कोशिश करंगे। महामारी के कारण पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्थ प्रभावित हुई ।  भारत के लिहाज़ से देखे तो भारत में भी बहुत ऐसी घटनाये घाटी जिन्होंने खूब सुर्खिया बटोरी।  तो आइये बताते हैं आपको 2020 की प्रमुख घटनाये ,जिनका आम लोगो की जिंदगी पर पड़ा असर ।

साल के शुरुआत में ही लोगो का केन्दर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन जारी रखा जिनमे प्रमुख है –

शाहीन बाग़ विवाद -शाहीन बाग़ का विरोध महिलाओं की अगुवाई में हुआ जो 11 दिसम्बर 2019 को संसद के दोनों सदनों में नागरिकता संशोधन बिल अधिनियम  के पारित होने के साथ शुरू हुआ। प्रदर्शनकारिओं ने (caa),(nrc) के खिलाफ आंदोलन नहीं किया बल्कि महिलाओं की सुरक्षा और बढ़ती बेरोजगारी के खिलाफ भी ये आंदोलन किया। शाहीन बाग़ विरोध प्रदर्शन में मुख्य रूप से मुस्लिम महिलाएं विरोध प्रदर्शन कर रही थी। शाहीन बाग़ में प्रदर्शन 14 दिसम्बर 2019 से 24 मार्च 2020 तक चला पुरे 101 दिन।  वाद में कोरोना की वजह से इनको अपना आंदोलन बंद करना पड़ा।

(LOCKDOWN): कोरोना महामारी के चलते पुरे विश्व में LOCKDOWN  लगाना पड़ा।  इस महामारी ने बड़ी बड़े देश को हिला कर रख दिया।  चीन से आये इस वायरस ने लोगो को घरों में बंद कर दिया।  कई  लोग बेरोजगार हो गए।  लोगो को विवश होकर घरों में रहना पड़ा। कई कंपनियां बंद हो गयी।  लेकिन फिर भी लोगो ने हार नहीं मानी।  LOCKDOWN के चलते पूरी अर्थव्यबस्था ठप्प हो गयी।

थाली और ताली :कोरोना वायरस में जब देश के प्रधानमंत्री ने एक दिन का जनता कर्फूय लगाने को कहा तो पुरे देश की तरफ से योगदान दिया गया।  लोगो ने पूरी तरह इस बात पर अमल किया और एक दिन का जनता कर्फूय लगाया।  और प्रधानमंत्री मोदी के कहने पर शाम को पांच बजे पांच मिनट कोरोना वारियर्स के लिए थाली और ताली बजाई।  

दिया जलाओ : जब (14) दिन का लोकदोन लगाया  गया तो  भी लोगो ने भरपूर साथ दिया।  इस जानलेबा बीमारी से बचने के लिए इक मात्र सहारा बीएस LOCKDOWN ही  था और सोशल DISTENCING । जब देश के प्रधानमंत्री ने लोगो से रात को (9) बजे लाइट ऑफ करने को कहा और अपने अपने घरों के बाहर कोरोना वारियर्स के लिए दिया या मोमबत्ती जलाने को कहा तो पुरे देश ने एक साथ मिलकर रत को 9 बजे लाइट्स ऑफ की।  जिससे एक दिन में एक ही  समय पर पुरे भारत में बिजली बंद हुए।  बाद में यही स्कीम्स दूसरे देशों ने भी अपनाई। 

दिल्ली में साम्प्रदायिक टकराब : उत्तर पूर्वी दिल्ली साम्प्रदायिकता की घटना 23 फरबरी की रात से शुरू हुए। दिल्ली के जफराबाद इलाके में एक झड़प हुए। सम्पति का नुक्सान हुआ इस नुक्सान में (53) लोगो की जान चली गयी। जबकि (200) से ज्यादा लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए।

 NIRBHAYA CASE :2012 के निर्भया काण्ड के चरों दोषिओं को 20 मार्च को तिहाड़ जेल में फांसी दे दी गयी। इस मामले में  3 बार डेथ वारंट जारी हुआ था। जिस पर किसी न किसी वजह से रोक लग गयी।  लेकिन चौथे डेथ वारंट पर चारों दोषिओं को फांसी दे दी गयी। और सात साल के बाद निर्भया को इन्साफ मिल गया।

 ऐसा ही एक मामला हाथरस कांड में रहा।  ये सामूहिक RAPE काण्ड भी बेहद सुर्खिओं में रहा। वहां पर भी 4 दोषिओं ने सामूहिक बलात्कार किया बाद में लड़की की इलाज़ के दौरान मौत हो गयी। उसके बाद पुलिस ने लड़की के परिवार वालों की अनुमति के बिना ही रातों रात लड़की  का अंतिम संस्कार कर दिया। जिसके कारण UP पुलिस और योगी सरकार की जम कर आलोचना हुए।

(सुशांत  सिंह सुसाइड केस ): सुशांत सिंह की मोत 2020 में सबसे ज्यादा सुर्खिओं में रही अभिनेता को 14 जून 2020 को मुंबई के बांद्रा निवास पर मृत पाया गया। मुंबई पुलिस के अनुसार उन्होंने पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या की। पुलिस के अनुसार वो पिछले 6 महीनो से डिप्रेशन में थे। उनकी पोस्टमार्टम रिपोर्टों के अनुसार उनकी मृत्यु  दम घुटने से हुए थी। मुंबई पुलिस ने इसकी जाँच शुरू की हालंकि  बाद में इसे (CBI) को ट्रांसफर किया गया। कई लोगो ने आरोप लगाए की बॉलीबुड में भाईबंदी के कारण वो अवसाद में आये थे। जिसके कारण जाँच में (CBI) ने कुछ निर्देशकों को फिल्म हस्तिओं से भी बातचीत की। लोगो में उनकी मौत को लेकर काफी आक्रोश देखा गया। और (CBI) जाँच की मांग की गयी। जाँच में उनकी गिर्ल्फ्रेंड  रिहा चक्रवती और उसके  भाई शोविक भी को जेल जाना पड़ा।  इनके परिवार पर धोखाधड़ी और मानसिक तनाव देने के भी आरोप लगे।

विकास दुबे अन्कॉउंटर :10 जुलाई  को कानपूर में पुलिस कर्मिओं की हत्या का आरोपी विकास दुबे गिरफ्तार किया गया। उसके वाद विकास दुबे का उप की सदफ (sdf)  ने अन्कॉउंटर कर दिया। जुलाई की आधी रत को विकास और उसके गुंडों ने 8 पोलिसकर्मिओं की बेरहमी से हत्या कर दी थी। विकास दुबे को उज्जैन से कानपूर लाने के दौरान गाडी दुर्घटना ग्रस्त हो गयी जिस दौरान विकास दुबे ने भागने की कोशिश की और पुलिस ने उसे रोके की कोशिश की लेकिन जब न रुका तो उसका अन्कॉउंटर करना पड़ा।

  विमान हादसा -7AUGUST  को केरल में एक विमान लैंडिंग के दौरान क्षतिग्रस्त हो गया। इस हादसे में दो  पायलट समेत 18 लोगो की मौत हो गयी। बोइंग (737) विमान कोचीपुरम में लैंडिंग के दौरान हवाई पट्टी से फिसल गया। 

किसान आंदोलन : सरकार ने मानसून सत्र में 3 कृषि कानून पास किये। इन्ही तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन में अन्नदाता दिल्ली को घेरे हुए हैं। किसानो की मांग है की (MSP) को कानूनी रूप देना है और तीनो कानून वापिस लेना है।  कल की मीटिंग में सरकार और किसान संगठनों में (50%) बातों पर सहमति हो गयी थी।  अब देखने बाली बात ये है की अगली मीटिंग में किसानो और सरकार के बीच बात बनती है की नहीं।

Total Page Visits: 124 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *