Two such villages of Punjab did not cast even a single vote

पंजाब के दो ऐसे गाँव यहाँ एक भी नहीं पड़ा वोट जानिए वजह ?

Latest Punjab

होशियारपुर ( पंजाब 365 न्यूज़ ) : इस बार सभी राज्यों में से ज्यादा पंजाब चुनाव बहुत सुर्ख़ियों में रहा है लेकिन इस बार का चुनाव मांगे मनवाने के रूप में भी याद रखा जायेगा क्योकिहोशियारपुर के दो ऐसे गाँव है जिन्होंने इन चुनावों में चुनाव का पूर्णतया बहिष्कार कर दिया और एक भी आदमी अपने वोट के अधिकार का प्रयोग नहीं कर पाए। होशियारपुर की गढ़शंकर विधानसभा सीट में पड़ते गांव बसियाला व रसूलपुर में एक भी मतदाता ने अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं किया। दोनों गांवों में 1000 से अधिक मतदाता थे। ग्रामीणों का कहना है कि वह अपनी मांग को लंबे समय से जनप्रतिनिधियों के सामने रख रहे हैं। आश्वासन सभी दल देते हैं, लेकिन किसी ने उनकी मांग को नहीं माना है। उनके पास मतदान के बहिष्कार के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था।
ग्रामीणों के मुताबिक फाटक बंद होने से उन्हें आवाजाही में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कहा कि अगर यह फाटक जल्द नहीं खुलवाया गया तो वह अपने संघर्ष को और तेज करेंगे। ग्रामीणों ने कहा कि मतदान का बहिष्कार कर उन्होंने केंद्र व राज्य सरकार के प्रति अपनी नाराजगी जता दी है। उम्मीद है कि अब दोनों सरकारों की नींद खुलेगी और उनकी मांग को माना जाएगा।

फाटक बंद होने से है परेशान :
बताया जा रहा है कि इन दोनों के गांवों के लोग रेलवे फाटक बंद होने के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं। उनकी लंबे समय से मांग है कि रेलवे फाटक को खोला जाए। उन्होंने पहले ही चुनाव के बहिष्कार की घोषणा की थी। मतदान प्रक्रिया संपन्न करना के लिए यहां सुबह से पोलिंग पार्टियां मतदाताओं का इंतजार करती रही, लेकिन शाम छह बजे तक भी कोई मतदान करने नहीं पहुंचा।
ग्रामीणों के अनुसार फाटक बंद होने के कारण लोगो को पांच किलोमीटर घूमकर गढ़शंकर-नवांशहर सड़क पर जाना पड़ता है। यह रास्ता काफी संकरा है। इस रास्ते में ट्रालियों को ले जाने खतरनाक है। ग्रामीणों का कहना है कि अगर इस रास्ते में सामने से कोई दूसरा वाहन आ जाए तो वाहन फंस जाते हैं, इसका एक ही विकल्प है कि फाटक को खोल दिया जाए। ये तो वहीँ गाँव बाले समझ सकते है जिनको ऐसी मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। बात ये है की अब सरकार को भी जागना होगा उन गाँव बालों की भी बात माननी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *