international-child-day

राष्ट्रिय बालिका दिवस पर सभी बेटिओं को उनके उज्जवल भविष्य हेतु उनको ढेर सारी शुभकामनायें

Latest National

नई दिल्ली (पंजाब 365 न्यूज़)  : राष्ट्रीय बालिका दिवस भारत में हर साल 24 जनवरी को मनाया जाता है। इसकी शुरुआत 2008 में महिला और बाल विकास मंत्रालय और भारत सरकार द्वारा की गई थी, जिसका उद्देश्य सभी असमानता वाली लड़कियों के बारे में लोगों में जागरूकता फैलाना था।

राष्ट्रीय बालिका दिवस 2021: राष्ट्रीय बालिका दिवस का उद्देश्य बालिकाओं के अधिकारों के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देना और बालिका शिक्षा के महत्व और उनके स्वास्थ्य और पोषण के बारे में जागरूकता बढ़ाना है।

महिला शिशुहत्या से लेकर लैंगिक असमानता से लेकर यौन शोषण तक, मुद्दों की कोई कमी नहीं है। इसके पीछे मुख्य उद्देश्य लड़कियों द्वारा सामना की गई असमानताओं को उजागर करना है, जिसमें बालिकाओं के अधिकारों, शिक्षा, स्वास्थ्य और पोषण के महत्व सहित जागरूकता को बढ़ावा देना है। आजकल लैंगिक भेदभाव भी एक बड़ी समस्या है जिसका सामना लड़कियों या महिलाओं को जीवन भर करना पड़ता है।

बालिकाओं के अंतर्राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर, आइए हम लड़कियों के अधिकारों को पहचानें और उन्हें विश्व भर में एक बेहतर जीवन प्रदान करने के लिए समस्याओं का सामना करने के लिए प्रेरित करें।

बालिका दिवस हमें याद दिलाता है कि यह हमारी ज़िम्मेदारी है कि हम उन्हें वह महत्व दें, जिसके वे हकदार हैं और उनके खुशहाल जीवन के लिए मिलकर काम करते है।

“बेटी है तो कल है” इसी आशा और उम्मीद  के साथ  राष्ट्रिय बालिका दिवस पर हम सभी अपनी बेटिओं को समान अवसर प्रदान करने का संकल्प ले।  

PM  मोदी ने वालिका दिवस पर बधाई देते हुए ट्वीट किया की ” राष्ट्रीय बालिका दिवस पर, हम अपनी #DeshKiBeti और ​​विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्धियों को सलाम करते हैं। केंद्र सरकार ने कई पहल की हैं, जो बालिकाओं को सशक्त बनाने पर ध्यान केंद्रित करती हैं, जिसमें शिक्षा तक पहुंच, बेहतर स्वास्थ्य सेवा और लिंग संवेदनशीलता में सुधार शामिल है।”

Total Page Visits: 108 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *