Know why World Ocean Day is celebrated

World Ocean Day जानिए क्यों मनाया जाता है और हमारे जीवन में क्या है इनका महत्व

International Latest

World Ocean Day 2021 (पंजाब 365 न्यूज़ ) : आज 8 जून को विश्वभर में वर्ल्ड ओशियन डे 2021 (विश्व महासागर दिवस) मनाया जा रहा है. आज समुद्र (Ocean) की साफ-सफाई के प्रति जागरूकता फैलाई जाती है और समुद्र तट पर फैले कचरे को साफ किया जाता है। महासगर दिवस मनाने के पीछे उद्देश्य है कि लोग यह जान सकें कि महासागर उनका लिए कितने जरूरी हैं। मानव जीवन में महासागरों की अहम भूमिका और इनके संरक्षण के लिए जरूरी प्रयासों के संबंध में वैश्विक जागरूकता बढ़ाने के लिए हर साल 8 जून को विश्व महासागर दिवस मनाया जाता है। जैव विविधता, खाद्य सुरक्षा, पारिस्थतिकी संतुलन, जलवायु परिवर्तन, सामुद्रिक संसाधनों के अंधाधुंध उपयोग इत्यादि विषयों पर प्रकाश डालना और महासागरों की वजह से आने वाली चुनौतियों के बारे में दुनिया में जागरूकता पैदा करना ही इस दिवस को मनाने का प्रमुख कारण है।
70% हिस्से पर हैं महासागर :
दुनियाभर में आज यानी 08 जून को विश्व महासागर दिवस मनाया जा रहा है। संयुक्त राष्ट्र और अंतर्राष्ट्रीय कानून द्वारा हर साल 08 जून को विश्व महासागर दिवस मनाया जाता है। जैसा कि हम सब जानते हैं कि पृथ्वी की सतह का लगभग 70 फीसदी हिस्से पर महासागर है। विश्व महासागर दिवस मनाने के पीछे का उद्देश्य मानव जीवन में समुद्र से होने वाले लाभों के बारे में जागरूकता पैदा करना है। महासागरों की भूमिका हमारे जीवन में बहुत ज्यादा है। महासागरीय धाराएं हमें 50 प्रतिशत ऑक्सीजन प्रदान करके ग्रह को गर्म रखता है। महासागर के खारे पानी में पौधों, जानवरों और अन्य विशाल जीव भी रहते हैं। समुद्र से हमें अलग-अलग तरह की जीवन रक्षक और कैंसर रोधी दवाएं मिलती हैं। 8 जून मंगलवार को विश्व महासागर दिवस के अवसर पर, संयुक्त राष्ट्र (यूएन) ने महासागरों को बचाने के लिए स्थायी प्रयासों और प्लास्टिक प्रदूषण को रोकने का आह्वान किया है।

कब लिया इस दिन को मनाने का निर्णय :
विश्व समुद्र दिवस’ की अवधारणा सर्वप्रथम 1992 में रियो डी जेनेरियो में हुए ‘अर्थ समिट'(पृथ्वी ग्रह) नामक फोरम में हर साल विश्व महासागर दिवस मनाने का निर्णय लिया गया था। तब कनाडा के इंटरनेशनल सेंटर फॉर ओशन डेवलपमेंट तथा ओशन इंस्टीट्यूट ऑफ कनाडा द्वारा पृथ्वी शिखर सम्मेलन में इसकी अवधारणा का मूल उद्देश्य लोगों को महासागरों पर मानवीय क्रियाकलापों के प्रभावों को सूचित करना, महासागर के लिए नागरिकों का एक विश्वव्यापी आंदोलन विकसित करना तथा विश्वभर के महासागरों के स्थायी प्रबंधन के लिए एक परियोजना पर वैश्विक आबादी को जुटाना व एकजुट करना है। यद्यपि संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा अधिकारिक रूप से इसे 2008 में ही मान्यता दी गई।
संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि महासागरों को ग्रह का फेफड़ा माना जाता है, जो जीवमंडल का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और भोजन और दवा का एक प्रमुख स्रोत है। दिन का उद्देश्य महासागरों पर मानवीय कार्यों के प्रभाव के बारे में जनता को सूचित करना और शिक्षित करना, नागरिकों के एक विश्वव्यापी आंदोलन को विकसित करना और दुनिया के महासागरों के स्थायी प्रबंधन के लिए एक परियोजना पर दुनिया की आबादी को एकजुट करना है।


थीम 2021 :
इस वर्ष के विश्व महासागर दिवस की थीम ‘द ओशन: लाइफ एंड लाइवलीहुड’ है। यह सतत विकास के लिए महासागर विज्ञान के संयुक्त राष्ट्र दशक की अगुवाई में विशेष रूप से प्रासंगिक है, जो 2021 से 2030 तक चलेगा।
The theme for World Oceans Day 2021 is ‘The Ocean: Life and Livelihoods’.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *