Know why Bachchan got angry

जानिए क्यों गुस्साई जया बच्चन ने BJP को दे डाला ये श्राप

Latest National

नई दिल्ली ( पंजाब 365 न्यूज़ ) : हम रोज ये देखते और सुनते आये है की आज राजसभा में ये हंगामा हुआ आज इतने बजे तक स्थगित हो गयी लेकिन आज आपको बताते है की राजयसभा में बॉलीबुड अभिनेत्री और सांसद जया बच्चन इस कदर भड़की की उन्होंने BJP, को श्राप तक दे डाला। राज्यसभा में समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन भाजपा और केंद्र सरकार पर जमकर बरसीं। दरअसल, ट्रेजरी बेंच पर बैठे भाजपा सांसदों के साथ सपा सांसद जया बच्चन की तीखी बहस हो गई। इस दौरान जया बच्चन भाजपा के सांसदों पर भड़क गईं। जया बच्चन ने कहा कि मुझ पर निजी हमला किया गया, मैं आपको श्राप देती हूं कि आप लोगों के बुरे दिन आएंगे। आप गला ही घोंट दीजिए हम लोगों का, आप लोग चलाइए। जया बच्चन ने विपक्षी दलों के नेताओं से भी कहा कि आप बीन किसके आगे बजा रहे हैं।

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव से पहले 3-4 डिग्री तापमान के बीच दिल्ली में चल रहा शीतकालीन सत्र काफी गरम है। शादी, चुनाव सुधार जैसे तमाम बिलों के बीच लखीमपुर खीरी कांड और किसानों के मुद्दे गूंज रहे हैं। हंगामा इतना बढ़ा कि सपा सांसद जया बच्चन ने संसद में ही शाप दे दिया। राज्यसभा में अपने खिलाफ निजी टिप्पणी से आहत जया ने भाजपा के सांसदों को शाप दे दिया कि जल्द ही उनके बुरे दिन आने वाले हैं।
जानिए क्यों तिलमिलाई थी जय बच्चन :
बेशक श्राप की बात को दो दिन बीत चुके है लेकिन जय बच्चन का श्राप बाला व्यान लोग भूल नहीं रहे है ,लोग जमकर जया बच्चन को निशाना बना रहे है। तिलमिलाई जया बच्चन ने आसन से कह दिया कि उन्हें निष्पक्ष होना चाहिए। उन्होंने विपक्ष की आवाज को दबाए जाने का भी आरोप लगाया। सपा की सांसद और बॉलीवुड एक्ट्रेस जया बच्चन (Jaya Bachchan) ने हाल ही में राज्यसभा (Rajya Sabha) में बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि आप लोगों के बुरे दिन बहुत जल्दी आने वाले हैं. खासी नाराज़ दिख रहीं जया बच्चन ने कहा, ”मुझ पर निजी हमला किया गया. मैं आपको श्राप देती हूं कि आप लोगों के बुरे दिन आएंगे.दरअसल, एक विधेयक पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए जया बच्चन ने 12 विपक्षी सदस्यों के निलंबन का मुद्दा उठाना चाहा और आसन पर बैठे पीठासीन अध्यक्ष भुवनेश्वर कालिता का नाम लिए बिना उनके बारे में परोक्ष टिप्पणी की। भाजपा के सदस्य राकेश सिन्हा ने व्यवस्था का प्रश्न उठाते हुए इस पर आपत्ति जताई। सिन्हा ने कहा कि जया बच्चन की टिप्पणी पर सवाल उठाने वाली है।

इस पर पीठासीन अध्यक्ष ने कहा कि वह रेकॉर्ड देखकर निर्णय करेंगे। हालांकि इसके बावजूद जया बच्चन अपनी बात रखती रहीं। उन्होंने कहा कि ऐसे समय में जब देश में कई सारे गंभीर मुद्दे हैं, सदन ने एक ‘लिपिकीय गलती’ को दुरुस्त करने के लिए तीन-चार घंटे चर्चा का समय आवंटित किया है। हंगामे के बीच ही उन्होंने आरोप लगाया कि उनके खिलाफ किसी सदस्य ने निजी टिप्पणी की है और इस मुद्दे पर उन्होंने आसन का संरक्षण मांगा।
बच्चन ने कहा, ‘वह कैसे सदन में निजी टिप्पणी कर सकते हैं…आप लोगों के बुरे दिन आएंगे…मैं शाप देती हूं।’ हालांकि बच्चन पर क्या निजी टिप्पणी की गई थी यह हंगामे की वजह से नहीं सुना जा सका।

उत्तर प्रदेश में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने हैं। भाजपा और समाजवादी पार्टी के नेता एक-दूसरे पर तीखे हमले कर रहे हैं। संसद में यह ‘शाप प्रकरण’ ऐसे समय हुआ जब उसी दिन जया बच्चन की पुत्रवधू और अभिनेत्री ऐश्वर्या राय बच्चन 2016 के ‘पनामा पेपर्स’ लीक प्रकरण से जुड़े एक मामले में पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ED) के समक्ष पेश हुईं। बताया जा रहा है कि ऐश्वर्या राय बच्चन से विदेशी मुद्रा प्रबंधन कानून (फेमा) के प्रावधानों के तहत पूछताछ की गई।

सोशल मीडिया पर कुछ लोग जया की नाराजगी के पीछे ईडी ऐंगल का तर्क दे रहे हैं। लोग कह रहे हैं कि बहू को ईडी ने तलब किया तो सास ने भाजपा को शाप दे दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *