good, news: so many trains will return on track

Good News: एक साल बाद पटरी पर लौटेंगी इतनी ट्रेने ,घर से निकलने से पहले जानिये उनका रूट

Latest Punjab

जालंधर (पंजाब 365 न्यूज़ ) : कोरोना महामारी के चलते सब कुछ बंद करना पड़ा था। जबकि एक साल हो चला है अभी तब सभी ट्रेनों का संचालन नहीं हो पाया है। कोरोना महामारी ने एक तरफ सब कुछ ठप्प रखा तो दूसरी तरफ किसान आंदोलन ने भी दिल्ली की सीमाओं की घेर रखा है। कोरोना के लॉकडाउन व फिर किसान आंदोलन से ठप रेल सेवा तेजी से पटरी पर लौट रही है। कोरोना काल के एक साल बाद पंजाब में 13 DMU ट्रेनें एक बार फिर से अप एंड डाउन रूट पर पटरी पर दौड़ती हुई नजर आएंगी। रेलवे की तरफ से यह ट्रेनें पांच अप्रैल से चलाने का फैसला ले लिया है। इससे डेली अपडाउन करने वाले यात्रियों को राहत मिलेगी।
अब नौकरीपेशा यात्रियों को विभिन्न रूटों पर सफर करने में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आएगी।


कौन सी ट्रेने होंगी शुरू और उनका समय :
1-जालंधर-पठानकोट (04641) शाम 6.35 बजे चलेगी और रात 9.15 मिनट पर पहुंचेगी।
2-पठानकोट-जालंधर (04642) सुबह 5.35 पर चलेगी और 8.15 पर पहुंचेगी।
3- फिरोजपुर-लुधियाना (04626) शाम 6.30 पर चलेगी और रात 9.55 पर पहुंचेगी।
4- लुधियाना- फिरोजपुर (04625) दोपहर 1.45 मिनट पर चलेगी और शाम 5 बजे।
5-फिरोजपुर-फाजिल्का (04627) सुबह 10.15 मिनट पर चलेगी और शाम 12.35 पर पहुंचेगी।
6- फाजिल्का-फिरोजपुर (04628) सुबह 10.55 मिनट पर चलेगी और दोपहर 3.05 मिनट पर पहुंचेगी।
7- लुधियाना-लोहियां खास (04629) सुबह 5.25 पर चलेगी और 7.40 मिनट पर पहुंचेगी।
8- लोहियां खास-लुधियाना (04630) सुबह 8 बजे चलेगी और 10.15 मिनट पर पहुंचेगी।
9- फाजिल्का-बठिंडा (04632) शाम 4.15 मिनट पर चलेगी और शाम 7.25 बजे चलेगी।
10- बठिंडा -फाजिल्का (04631) सुबह 7 बजे चलेगी और 10 बजे पहुंचेगी।
11- फिरोजपुर -फाजिल्का (04643) सुबह 5.40 पर चलेगी और 8.05 पर पहुंचेगी।
12- फाजिल्का-फिरोजपुर (04641) शाम 5.20 पर चलेगी और शाम 7.45 पर पहुंचेगी।
13- पठानकोट-बैजनाथ (04647) सुबह 5.45 पर चलेगी और दोपहर 1.55 मिनट पर पहुंचेगी।

आपको बता दे की फिरोजपुर मंडल की तरफ से फिलहाल अधिकतर डीएमयू ट्रेन फिरोजपुर रूट की ही चलाई गई है और आने वाले समय में बाकी रूटों पर भी ट्रेनें चलाई जाएंगी।


बसों के महंगे सफर से मिलेगी थोड़ी राहत :
एक साल से बंद पड़ी ट्रेने भी अब पटरी पर लौटने जा रही है। लोग भी बसों का सफर करने पर मजबूर थे। कई नौकरीपेशा लोगो को महंगा सफर करना ही पड़ता था क्योंकि लोग मजबूर थे बसों का सफर करने के लिए। बसों में सफर से लोग परेशान और समय डॉन का नुक्सान हो रहा था लेकिन अब ट्रेने चलने से थोड़ी राहत जरूर मिलेगी।

Total Page Visits: 133 - Today Page Visits: 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *