चुनाव आते ही उमीदवारों को याद आयी माँ बगलामुखी की पहुंचे जीत के लिए हवन करवाने

Latest National Punjab

काँगड़ा ( पंजाब 365 न्यूज़ ) : चुनाव आते ही हर एक मंत्री ,उम्मीदवार अपने विजय होने की कामना कर रहा है। बात करे हिमाचल में स्थित शक्तिपीठ माँ बगलामुखी की तो हर किसी का केंद्र बना हुआ है। बात चाहे करे उम्मीदवारों की या सेलिब्रिटी की हर कोई यहां पहुँच रहा है। गोविंदा में अपने जन्मदिन पर माँ बगलामुखी के द्वार में पहुंचे थे ,शिल्पा भी कुछ दिन पहले माँ बगलामुखी के द्वार में शीश नवाजने आयी थी। अब बात करे राजनितिक पार्टियों की तो इन दिनों जालंधर-होशियारपुर-कांगड़ा (हिमाचल प्रदेश) मार्ग पर विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के प्रत्याशियों का आवागमन लोगों के लिए खासी उत्सुकता की वजह बना हुआ है।

प्रत्याशियों का हिमाचल प्रदेश का आवागमन टिकट वितरण से पहले शुरू हुआ, जो अब नामांकन के बाद ज्यादा तेज हो गया है। हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा में शक्तिपीठ माता बगलामुखी का मंदिर है, जिनकी आराधना दुश्मनों के विनाश एवं उन पर विजय पाने के लिए सिद्ध मानी जाती है। बकायदा तौर पर माता बगलामुखी मंदिर परिसर में हवन कराए जाते हैं और इस मंदिर की ख्याति देश विदेश में भी है।


टिकट लेने से पहले भी विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के प्रत्याशी शक्ति पीठ बगलामुखी माता मंदिर में शीश नवाते देखे गए और अब नामांकन के बाद भी प्रत्याशी वहां पर जाकर हवन करा रहे हैं। खास यह है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी तो चुनावी बिगुल बजने से ठीक पहले कई बार माता बगलामुखी मंदिर जा चुके हैं। ऐसा पहली बार नहीं है कि माता बगलामुखी मंदिर में प्रत्याशियों का आवागमन बढ़ा है।


इससे पहले भी हुए चुनावों के दौरान माता बगलामुखी मंदिर में प्रत्याशियों की कतारें देखी जाती रही हैं। अब तो पंजाब बरसे माता बगलामुखी मंदिर परिसर पहुंच रहे प्रत्याशियों का रास्ता है कि उन्हें हवन के लिए एडवांस में पुजारियों से टाइम लेना पड़ रहा है और उसी के मुताबिक वह अपना यात्रा कार्यक्रम तय कर रहे हैं। जिला जालंधर के भी कई प्रत्याशियों को बीते कुछ दिन में माता बगलामुखी मंदिर में शीश नवाते हुए देखा जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *