Russia attacked Ukraine:

रूस ने किया यूक्रेन पर हमला :एयर इंडिया के विमान को बीच से ही दिल्ली लौटना पड़ा वापिस

International Latest National

वॉर ( पंजाब 365 न्यूज़ ) : काफी दिनों से कयास लगाए जा रहे थे की रूस यूक्रेन पर हम कर देगा। आखिरकर ये बात सच साबित हो गयी। आज रूस ने यूक्रेन पर हमला कर दिया। जिसकी वजह से रूस के हमले का सामना कर रहे पूर्वी यूरोपीय देश यूक्रेन ने अपने हवाई क्षेत्र को बंद करने का ऐलान कर दिया है। युद्ध की घोषणा होते ही रूस ने राजधानी कीव पर हमला बोलना शुरू कर दिया। यूक्रेन ने दावा किया है कि रूस ने मिसाइल से भी हमला किया है। यूक्रेन ने भी रूसी हमले का मुंहतोड़ जवाब देने का एलान किया है। इस बीच भारतीयों को वापस लाने के लिए कीव गया एयर इंडिया के एक विमान को बीच से ही वापस लौटना पड़ा। अधिकारियों के अनुसार जैसे ही यूक्रेनी अधिकारियों ने नागरिक विमान संचालन के लिए देश के हवाई क्षेत्र को बंद कर दिया था एयर इंडिया और केंद्र सरकार ने इस पर विचार करना शुरू कर दिया था, जिसके बाद यह फैसला हुआ। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने गुरुवार सुबह यूक्रेन पर सैन्य कार्रवाई का आदेश दिया। रूसी सेना ने यूक्रेन की राजधानी कीव समेत कई जगहों पर बमबारी की। अभी भी धमाकों की आवाज सुनी जा रही है। रूस ने यूक्रेन के एयर बेस और सैन्य अड्डे को उड़ाने का दावा किया है। यूक्रेन की सेना ने बताया कि रूसी सेना ने देश के पूर्वी हिस्से में उसके ठिकाने पर बमबारी की है। समाचार एजेंसी रायटर्स के मुताबिक, यूक्रेन की सेना ने दावा किया है कि लुहान्स्क क्षेत्र में पांच रूसी विमानों और एक रूसी हेलीकाप्टर को मार गिराया गया है। यूक्रेन ने रूस के हमले के बाद मार्शल ला लागू कर दिया है। यूक्रेन के विदेश मंत्री ने कहा कि रूस ने यूक्रेन पर हमला शुरू कर दिया है। यूक्रेन में रूस के हवाई हमलों से बचने के लिए लगातार सायरन बजाए जा रहे हैं। हमलों से बचने के लिए कीव में नागरिक भूमिगत मेट्रो स्टेशनों की ओर जा रहे हैं। पुतिन के ऐलान के तुरंत बाद अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने इस कदम की निंदा की। बाइडेन बोले- पुतिन के फैसले का बहुत बुरा नतीजा निकलेगा। मनावता इस फैसले का अंजाम भुगतेगी, लोगों की जिंदगियां तबाह हो जाएंगी। इस हमले से जो भी तबाही मचेगी और जितनी जिंदगियां खत्म होंगी, उसका जिम्मेदार अकेला रूस ही होगा। अमेरिका और उसके सहयोगी इस वक्त एक हैं और इस फैसले का निर्णायक जवाब देंगे। दुनिया रूस को जिम्मेदार ठहराएगी। यूक्रेन पर हमले को लेकर भारत ने चिंता जाहिर की है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में हुई बैठक में भारत ने दोनों देशों से तनाव कम करने का आग्रह किया है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति ने कहा कि हम तत्काल डी-एस्केलेशन का आह्वान करते हैं और आगे की किसी भी कार्रवाई से परहेज करते हैं जो स्थिति को बिगड़ने में योगदान दे सकता है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने इस हमले की निंदा की है। बाइडन ने कहा कि ये हमला अनुचित है। यूएनएससी की बैठक में रूस के प्रतिनिधि ने कहा कि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने जिस स्पेशल आपरेशन का ऐलान किया है, वह यूक्रेन के लोगों को बचाने के लिए है। वहां के लोग सालों से पीड़ित हैं। हमने यूएन चार्टर के आर्टिकल 51 के हिसाब से फैसले लिए हैं। एयर इंडिया की फ्लाइट (AI1947) यूक्रेन के कीव में NOTAM (नोटिस टू एयर मिशन) के कारण दिल्ली वापस आ गई है। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा यूक्रेन में ‘सैन्य अभियान’ की घोषणा के बाद यूक्रेन में कच्चे तेल की कीमत 100 डालर प्रति बैरल के पार पहुंच गई है।


हमले के तुरंत बाद यूक्रेन ने बयान जारी किया। विदेश मंत्री दिमेत्रो कुलेबा ने कहा, ‘हम अपनी हिफाजत करेंगे और जंग जीतेंगे। पुितन ने अभी-अभी यूक्रेन पर हमला बोल दिया है। यूक्रेन के शांति पसंद नगरों पर हमला किया जा रहा है। यह रूस का आक्रामक व्यवहार है और उसी के चलते हमला हुआ है। दुनिया को पुतिन को रोकना ही होगा। यही वक्त है, जब दुनिया को कदम उठाना होगा।’
उन्होंने कहा- ‘यूरोप और दुनिया का भविष्य पर खतरा मंडरा रहा है। सभी देशों को तुरंत एक्शन लेना चाहिए। दुनिया से हमारी 5 मांगे हैं- ‘
* रूस पर कड़े से कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगाएं
* हर तरीके से रूस को अलग-थलग कर दें
* यूक्रेन के लिए हथियार और साजो-सामान का इंतजाम करें
* यूक्रेन की आर्थिक मदद करें
* मानवीय तौर पर भी सहायता दें


पुतिन ने दी है खुली धमकी :
व्लादिमिर पुतिन ने गुरुवार सुबह रूसी टेलिविजन पर एक बयान दिया। उन्होंने कहा कि हम यूक्रेन में स्पेशल मिलिट्री ऑपरेशन शुरू कर रहे हैं, जिसका मकसद डिमिलिटराइजेशन है। हमारा मकसद पूरे यूक्रेन को हथियाना नहीं है। पुतिन ने नाम लिए बगैर अमेरिका और NATO को भी धमकी दी। उन्होंने कहा कि हमारे ऑपरेशन में दखल देने वालों को अंजाम भुगतना होगा।
CNN की रिपोर्ट के मुताबिक, पुतिन के इस बयान के बाद ही यूक्रेन की राजधानी कीव के पास कई धमाके सुने गए हैं। इसके अलावा विद्रोहियों के कब्जे वाले इलाके से भी धमाके की खबरें आ रही हैं।


पुतिन ने दिए है ये आदेश :
पुतिन ने टेलीविजन पर दिए अपने बयान में कहा- हम यूक्रेन की सेना से अपील करते हैं कि अपने हथियार डाल दें। यूक्रेन की सेना ने रूस को डराया है और यह सब कुछ नियो नाजी लोगों के इशारे पर हो रहा है। पूर्वी यूक्रेन में 2014 में बने अलगाववादी इलाकों ने हमसे मदद मांगी थी, उनके कहने पर ही हम यह कदम उठा रहे हैं।हमारा मकसद उन लोगों की हिफाजत करना है, जो पिछले 8 साल से यातना और नरसंहार का शिकार हो रहे हैं। इसके लिए हम यूक्रेन में डीमिलिटराइजेशन का कदम उठाने जा रहा हैं। हम उन लोगों को अदालत तक ले जाएंगे, जिन्होंने जनता के साथ खूनी गुनाह किए हैं। इसमें रूसी फेडरेशन के लोग भी शामिल हैं।


हम किसी भी हालत के लिए तैयार : रूस
अगर किसी ने भी यूक्रेन और रूस के बीच दखल देने की कोशिश की, हमारे लोगों और हमारे देश को डराने की कोशिश की तो वह जान ले कि रूस तुरंत इसका जवाब देगा और उन्हें ऐसा अंजाम भुगतना होगा, जो उन्होंने कभी नहीं सोचा होगा। हम किसी भी तरह के हालात के लिए तैयार हैं।​​​

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *