सिद्धार्थ की राह पर चली शहनाज़ गिल जानिए कैसे ?

Entertainment Latest National

एंटरटेनमेंट ( पंजाब 365 न्यूज़ ) : शहनाज़ गिल एक ऐसा हस्ता मुस्कुराता चेहरा जो हर किसी को अपना दीवाना बना दे। आपको बता दे की सिद्धार्थ शुक्ल के जाने के बाद शहनाज़ ने अपने आपको लाइमलाइट से दूर कर लिए था वो बहुत टूट चुकी थी। बिग बॉस में सिद्धार्थ और शहनाज़ की नज़दीकियां किसी से भी छुपी नहीं थी। जिसके बाद फैंस ने इनको सिदनाज का नाम दिया था। इन दोनों की जोड़ी को लोगो ने सबसे ज्यादा पसंद किया था। लेकिन बदकिस्मती से बिग बॉस 13 विनर सिद्धार्थ शुक्ला को 2 सितम्बर को हार्ट अटैक से निधन हो गया। जिसकी वजह से शहनाज़ और सिद्धार्थ के परिवार वाले टूट गए। आपको बता दे की अब एक्टर के गुजरने के 4 महीने बाद शहनाज ने ब्रह्मकुमारी शिवानी बहन से बातचीत कर उन्हें याद किया है। शहनाज ने हाल ही में अपने यूट्यूब चैनल पर अपनी और ब्रह्मकुमारी शिवानी बहन की बातचीत का एक वीडियो शेयर किया है। वीडियो में शहनाज ने कहा, मैं अकसर सिद्धार्थ से कहा कहती थी कि मुझे शिवानी बहन से बात करनी है। वो कहता था, हां पक्का, ऐसा जरूर होगा, तुम चिल करो और अब ये हो रहा है। मुझे हमेशा ऐसा लगता था कि आपसे किसी तरह बात होगी और हम कनेक्ट होंगे। आपको बता दे की बता दें कि सिद्धार्थ शुक्ला भी पिछले कई सालों से ब्रह्मकुमारी संस्था का हिस्सा था। एक्टर अक्सर संस्था में जाकर समय बिताया करते थे। रक्षाबंधन और अपने जन्मदिन पर भी सिद्धार्थ बहनों से मुलाकात करते थे। अब उनकी लेडी लव शहनाज गिल भी उन्ही की राह में चल रही हैं।

बालिका वधू, दिल से दिल तक जैसे हिट टीवी शो से प्रसिद्धि पाने वाले सिद्धार्थ का पिछले साल 2 सितंबर को 40 साल की उम्र में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। सिद्धार्थ रियलिटी शो, बिग बॉस के 13 वें सीजन के विजेता भी थे। सिद्धार्थ और शहनाज़ की मुलाकात बिग बॉस के घर के अंदर हुई थी और जब से उनकी केमिस्ट्री दर्शकों को पसंद आई है। दोनों ने एक-दो म्यूजिक वीडियो भी किए
सिद्धार्थ से मैंने बहुत कुछ सीखा है :
अकसर दोनों साथ दिखने बाले सिडनाज़ आज अलग हो चुके है लेकिन सिद्धार्थ की कमी आज भी शहनाज़ की आँखों में साफ़ दिखती है। शहनाज ने बातचीत में कहा, मैं हमेशा सोचती हूं कि उस आत्मा ने मुझे कितना कुछ सिखाया है। मैं पहले लोगों को समझ नहीं पाती थी। मैं आसानी से लोगों पर भरोसा कर लेती थी और मैं बहुत मासूम थी पहले लेकिन उस आत्मा ने मुझे बहुत कुछ सिखाया है। भगवान ने मुझे उस आत्मा से मिलवाया और हमें दोस्त कि तरह एक दूसरे से जोड़े रखा जिससे वो मुझे जिंदगी में कुछ सिखा सके। इन दो सालों में मैंने बहुत कुछ सीखा। मेरा रास्ता भगवान की तरफ जाना था और इसलिए सिद्धार्थ मेरी जिंदगी में रास्ता दिखाने आया। उसने मुझे बहुत कुछ सिखाया। उसने मुझे आप जैसे लोगों से मिलाया। मैं अब सब स्ट्रॉन्ग बनकर संभाल सकती हूं। मैं अब बहुत ताकतवर हूं।
सिद्धार्थ क सफर हमारे साथ इतना ही था :
शहनाज ने कहा, सिद्धार्थ की जर्नी पूरी हो चुकी है। उनके कपड़े बदल चुके हैं,लेकिन वो कहीं न कहीं आ चुके हैं। शक्ल बदल गई है, लेकिन वो किसी ना किसी के रूप में आ चुके हैं। उनका अकाउंट मेरे साथ बंद हो चुका है, लेकिन ये जारी रहेगा। जैसे फिल्म में होता है न कि जब तक नेगेटिव होता है, तब तक हैप्पी एंडिंग नहीं होती। मेरे साथ भी ऐसा ही होगा। मैं भी ऐसा सोचती थी कि मुझे अब नहीं रहना, अब मैं क्या करूंगी, लेकिन नहीं। उनकी जर्नी अभी के लिए हमारे साथ खत्म हो गई है, लेकिन हमें हमारी जर्नी जारी रखनी है। हम अपना भविष्य खराब कर लेते हैं और आगे हमें पछतावा होगा कि ये हमने क्या कर लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *