Frauded by the teacher:

अध्यापक से ठगी :डॉलर सैलरी के लालच में गुरु जी तंजानियां की जगह पहुंच गए कीनिया

Crime Punjab

जालंधर (पंजाब 365 न्यूज़ ) : आये दिन शहर से ऐसी खबरें आती है जिसमे ट्रेवल एजेंट द्वारा लोगो को लालच देकर और पैसे ऐंठ कर किसी और देश में ही भेज दिया जाता है। ऐसा ही मामला जालंधर से सामने आया है यहां एक प्राइमरी स्कूल के अध्यापक को डॉलर में सैलरी मिलने का लालच देकर तंजानियां का वर्क परमिट दिलवाने के नाम पर ठगी की घटना सामने आयी है और अध्यापक से ढाई लाख लेने के बाद अध्यापक को तंज़ानिया की वजय कीनिया भेज दिया गया था।
2011, का है मामला ;
लोग बहार जाने के लिए पागल हो चुके होते हैं की कुछ बिना सोचे समझे किसी को अपनी ज़िंदगी की पूँजी सौंप देते है। फिल्लौर के दुसांझ कलां के रहने वाले प्राइमरी स्कूल के टीचर कुलविंदर लाल ने बताया कि खुरला किंगरा के रहने वाले राम मूर्ति ने उसे भरोसा दिलाया था कि वर्क परमिट पर दो साल के लिए उसे तंजानियां भेज देगा। जहां उसे डॉलर में सैलरी मिलेगी और इस पर 2.50 लाख खर्चा आएगा। उसने एक महीने में काम होने का भरोसा देकर पासपोर्ट व रुपए ले लिए लेकिन उसे तंजानियां नहीं भेजा। यह लेन-देन 20 जुलाई 2011 को हुआ था।
ऐसे लौटा अपने वतन ;
पुलिस ने इसकी जांच की तो पता चला कि राम मूर्ति ने तंजानियां की जगह उसे कीनिया भेज दिया। वहां वो करीब एक महीने रहा लेकिन फिर वापस लौट आया। इस मामले में आरोपी राम मूर्ति को 6 सम्मन जारी किए गए जो उसकी पत्नी ने लिए लेकिन वह पुलिस की जांच में शामिल नहीं हुआ। इसके बाद उसके खिलाफ केस दर्ज करने की सिफारिश कर दी गई।
पैसे मांगने पर एजेंट ने किया टालमटोल :
जब आकर अध्यापक ने ट्रेवल एजेंट से अपने पैसे वापिस मांगे तो वो पैसे लौटने का टालमटोल करता रहा। जब अध्यापक को उसके पैसे नहीं मिले तो उसने पुलिस में उसकी शिकायत कर दी। पुलिस ने अब आरोपी ट्रैवल एजेंट के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।
प्राइमरी स्कूल के अध्यापक ने बताया की मुझे डॉलर में सैलरी मिलने के चक्क्र में ट्रेवल एजेंट ने मुझस धोखा कर के कीनिया पहुंचा दिया था लेकिन अब वो वहां से वापिस आ गया है।

Total Page Visits: 140 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *