Case filed for AMU alumnus Sharjeel

AMU के पूर्व छात्र शरजील उस्मानी पर हेट स्पीच के आरोप में हुआ केस दर्ज

Crime National

महाराष्ट्र (पंजाब 365 न्यूज़ ): शरजील उस्मानी अपने भड़काऊ ब्यान देने में माने जाते है।  हमेशा  हिन्दू   समाज   को भरा  बुरा कहने वाले उस्मान   ने  30- जनवरी  को दिए  भाषण में  अपनी  सारी  हदे  पार  कर  दी । ऐसा ही एक भाषण उसने 30- जनवरी को पुणे की एल्गार परिषद में दिया । पुणे की एल्गार परिषद में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में हुआ केस दर्ज। शरजील के खिलाफ पुणे में दो  शिकायत दर्ज की गयी है बल्कि मुंबई में 1- शिकायत दर्ज की गयी है।  महाराष्ट्र की सियासत में  शरजील उस्मानी के जहरीले बोल पर सियासी गर्माहट काफी बढ़ गयी है।

लेकिन सवाल ये है की हिन्दुतत्व के मुद्दे पर मुखर रहने बाले उद्धव ठाकरे  शरजील की हेट  स्पीच पर आखिर चुप क्यों है। 

शारजील उस्मानी ने 30 जनवरी को पुणे के गणेश कला क्रीड़ा मंच में आयोजित एल्गर परिषद कार्यक्रम को संबोधित किया था। इसके तुरंत बाद, हिंदू समुदाय के खिलाफ कथित रूप से आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल करने का एक वीडियो वायरल हुआ।

आपको बता दे की  ये वही शरजील उस्मानी है जिसको नागरिकता संशोधन कानून विरोध में हिंसा मामले में गिरफ्तार किया गया था।

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) के पूर्व छात्र नेता शरजील उस्मानी  जमानत पर है, लेकिन कार्रवाई के बाद भी सुधरने का नाम नहीं ले रहा है ।

शारजील उस्मानी ने 30 जनवरी को पुणे के गणेश कला क्रीड़ा मंच में आयोजित एल्गर परिषद कार्यक्रम को संबोधित किया था। इसके तुरंत बाद, हिंदू समुदाय के खिलाफ कथित रूप से आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल करने का एक वीडियो वायरल हुआ।

शरजील अपनी हरकतों से बाज़ नहीं आ रहा है।  शरजील ने एक बार फिर हिंदुओं के खिलाफ जहर उगला है। शर्जील ने हिंदुओं को बुरी तरह सड़ा हुआ बताया है।  शर्जील ने हिंदुओं को मुसलमानों की लिंचिंग और कत्ल करने वाला समाज बताया है।   शरजील ने कहा की भारत   की न्यायपालिका  और कार्यपालिका  पर भरोसा नहीं , उसने ये भी कहा की उसे राज्य सरकार पर भी भरोसा नहीं  है। और कहा की मैं राष्ट्रवाद को नहीं मानता। ,शर्जील ने यह स्पीच 30 जनवरी 2021 एल्गार परिषद पुणे में दी है।

मगलवार को BJP- विधायक राम कदम ने कहा की इस बात को 3- दिन बीत चुके है , लेकिन अभी तक हिन्दू धर्मों और समाज का अपमान करने वाले के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई  है।

72- घंटे हो गए इस बात को अभी तक महाराष्ट्र सरकार ने इसके खिलाफ कोई कदम क्यों नहीं उठाया , क्या महाराष्ट्र सरकार उनको बचाने की कोशिश कर रही है ? आखिर  हिन्दू परिषद के मंच पर  और दंगे के आरोपी शरजील उस्मानी को जगह दी किसने।

हिन्दू समाज ने शरजील पर कड़ी कार्रवाई न करने पर आंदोलन का अल्टीमेटम तक दे दिया है। अगर सरकार अगले 48 घंटों में कोई कदम नहीं उठाती है, तो हमें सड़कों पर उतरना होगा और आंदोलन करना होगा क्योंकि हिंदू समाज अपमान नहीं सहेगा.’

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने सोमवार को कहा था कि सरकार ‘एल्गार परिषद 2121’ में दिए गए भाषणों की जांच करेगी, अगर कोई आपत्तिजनक चीजें पाई जाती हैं।  तो उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। 

Total Page Visits: 99 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *