Today there has been such a decrease

आज कोरोना केसों में इतनी आई कमी लेकिन मौत के आंकड़े डराने वाले

Corona Update National

नई दिल्ली (पंजाब 365 न्यूज़ ) : कोरोना की दूसरी लहर जैसे ही शांत हुई थी वैसे ही लोगो को ढील मिल गयी थी लेकिन इसी ढील के साथ कोरोना का खतरा फिर से बढ़ गया था। लोग सोशल डिस्टन्सिंग और मास्क लगाना तक भूल गए थे। इन्ही सब गलतियों के कारण फिर से केसों में इज़ाफ़ा होने लगा है। बीते 24 ,घंटो में देश में कोरोना के केस में शुक्रवार को मामूली राहत दी है। बीते 24 घंटे में 38,696 नए मरीज मिले और 40,020 ठीक हुए, जबकि 616 की मौत हुई। इस तरह एक्टिव केस में 1,951 की कमी आई है। इससे पहले बीते तीन दिन से एक्टिव केस में बढ़ोतरी हो रही थी।

रोजाना के केस में सबसे आगे चल रहे केरल में भी शुक्रवार को रोजाना के केस में मामूली गिरावट देखी गई। यहां 19,948 मरीजों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई, 19,480 ठीक हुए और 187 संक्रमितों ने महामारी से दम तोड़ दिया।
स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश में अब तक 3 करोड़ 18 लाख 95 हजार 385 कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं। वहीं, देश में अभी 4 लाख 12 हजार 153 सक्रिय मामले हैं। देश में अब तक 3 करोड़ 10 लाख 15 हजार 861 लोगों की रिकवरी हो चुकी है। भारत में अब तक 4 लाख 27 हजार 371 लोग कोरोना के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं।
स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि सक्रिय मामले कुल मामलों का 1.29% हैं। साप्ताहिक सकारात्मकता दर 5% से नीचे बनी हुई है, वर्तमान में 2.39% है। दैनिक पॉजिटिविटी रेट 2.21% है। दैनिक पॉजिटिविटी रेट पिछले 12 दिनों से 3% से कम है। वहीं, देश में रिकवरी रेट 97.37% है। बताया गया है कि टेस्टिंग में काफी वृद्धि हुई। अब तक कुल 47.83 करोड़ परीक्षण किए गए।

वहीं, देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस की 49,55,138 वैक्सीन लगाई गईं हैं, जिसके बाद कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 50 करोड़ 10 लाख 09 हजार 609 हो गया है। भारत में 16 जनवरी 2021 को शुरू हुए कोविड-19 टीकाकरण अभियान के सफर ने, करीब 7 महीनों बाद 50 करोड़ के आंकड़े को पार किया है। बता दें कि देश के सबसे बड़े सूबे यूपी में अब तक सबसे ज्यादा टीकाकरण हुआ है। वहीं दूसरे स्थान पर महाराष्ट्र है और तीसरे पर गुजरात ने स्थान बनाया है।


देश के 23 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में आंशिक लॉकडाउन है। यहां पाबंदियों के साथ छूट भी है। इनमें छत्तीसगढ़, कर्नाटक, केरल, बिहार, दिल्ली, महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, हरियाणा, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, मेघालय, नगालैंड, असम, मणिपुर, त्रिपुरा, आंध्र प्रदेश और गुजरात शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *