Corona raises Punjab's concern:

कोरोना ने बढ़ाई पंजाब की चिंता : नाईट कर्फ्यू लगने के पूरे आसार

Corona Update Latest Punjab

पंजाब ( पंजाब 365 न्यूज़ ) : कोरोना के दूसरे वेरिएंट ने सरकार की चिंता तो बढ़ा ही दी है और चुनावो की ऊपर भी कोरोना का साया मंडराने लगा है। जिसको लेकर सरकार जल्द ही कोई बड़ा फैसला ले सकती है। जिस तरह हर रोज नए केसों में इज़ाफ़ा हो रहा है पंजाब में बढ़ते संक्रमण के बीच राज्य सरकार जल्द ही बड़ा फैसला ले सकती है। स्वास्थ्य विभाग ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि पांच जनवरी से 1000 कोरोना संक्रमित रोजाना सामने आ सकते हैं। इस रिपोर्ट के बाद सरकार बंदिशों पर सख्ती की तैयारी कर रही है। सोमवार को इस रिपोर्ट पर सरकार की ओर से समीक्षा कर आदेश जारी किए जाएंगे। राज्य में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर पंजाब के स्वास्थ्य विभाग ने एक रिपोर्ट तैयार की है। इसमें विभाग ने यह आशंका जताई है कि राज्य में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव पर खतरा मंडरा सकता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर जल्द ही गंभीर फैसला नहीं लिया गया तो रोज आने वाले संक्रमण के मामलों की संख्या पांच जनवरी से 1000 तक पहुंच सकती है। इस रिपोर्ट को सोमवार को मुख्य सचिव के सामने रखा जाएगा।

रविवार को 24 घंटे के दौरान 417 मरीज मिले। वहीं 3 कोरोना रोगियों की मौत हो गई। 49 मरीज अब भी लाइफ सेविंग सपोर्ट पर हैं। अब 1,349 एक्टिव केस हो गए हैं। ऐसे में पंजाब में कोरोना के बिगड़ते हालात देख कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने CM चरणजीत चन्नी से इसकी रिपोर्ट ली।

वहीं लगातार बढ़ते कोरोना मरीजों को देखते हुए पंजाब में नाइट कर्फ्यू लगाया जा सकता है। इसके अलावा मास्क को लेकर भी सख्ती बरती जा सकती है। मंत्री काका रणदीप ने कहा कि अगर केस इसी तरह बढ़ते गए तो फिर सरकार नाइट कर्फ्यू लगाने पर जरूर विचार करेगी।
CM- चन्नी को सोनिया की सलाह :
पंजाब के CM चरणजीत चन्नी विधानसभा चुनाव की रैलियों में व्यस्त हैं। वहीं पंजाब में कोरोना के हालात तेजी से बिगड़ते जा रहे हैं। ऐसे में सोनिया गांधी ने CM को सलाह दी कि वह कोरोना से निपटने के लिए तैयारी करें। सोनिया ने कहा कि कोरोना की आपात स्थिति से निपटने में किसी तरह की ढील नहीं होनी चाहिए। हर संभावना से निपटने के लिए पर्याप्त इंतजाम किए जाने चाहिएं। CM चन्नी ने कहा कि चीफ सेक्रेटरी को रोजाना कोविड की स्थिति पर नजर रखने के लिए डिप्टी कमिश्नरों से तालमेल रखने और उन्हें रिपोर्ट देने के लिए कहा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *